Tuesday, February 10, 2009

दीपिका की चुदाई

हमारे यहाँ एक काम करने वाली बाई आती थी लेकिन कुछ दिनों से उसका काम बढ़ गया था इसलिए उसकी लड़की दीपिका आती थी एक दिन वो आई जब में नहा रहा था मेने पुरे कपड़े उतार दिए वो देखकर बहार चली गई मेने ऐसा दो तीन बार किया एक दिन मेने उससे कहा आपकी पीट में कुछ लगा है और उसे हाथ लगाया उसकी उमर १३ या १४ साल होगी एक दिन मेने उसे अलमारी से कुछ निकलने कहा वो ऊपर चढी मेने जबरदस्ती उसको पकड़ लिया और नीचे उतरा एक दिन में घर में अकेला था वो भी अकेली थी रात को ८ बजे वो खाना बनने आई मेने कहा आज यही खाना खा लो उसने कहा ठीक है उसे कंप्यूटर पैर गेम खेलने का सौक था मेने उसे गेम खिलाये और धीरे धीरे ब्लू फ़िल्म दिखाई और बताया कैसे सेक्स करते है वो मेरी गोदी में बैठी थी रात के १२ बज चुके थे उसे नींद आ रही थी मेने कहा चलो अब सो जाते है बेड पैर हम दोनों सो गए मेने उसकी स्किर्ट में हाथ डाला उससे कहा जो कर रहा हु करने दो मनी दूंगा वो मान गई उसके पुरे कपड़े उतार दिए और मेरे भी मेने उसको पैरो से चूमना सुरु किया धीरे धीरे उसकी चूत तक पहुँच गया वो बहुत शर्मा रही थी मेने जैसे ही अपना लैंड डाला वो चिल्ला पड़ी मेने उसकी चीख सुने बिना जोर जोर से चोदना सुरु कर दिया कुछ समय बाद ब्लीडिंग होने लगी मेने उसे बेड से नीचे चटाई पैर लेता दिया साडी रात में उसे चोदता रहा वो चीखती रही और पुरी चटाई खून से लत पट हो गई दुसरे दिन सुबह उसे उलटी हुयी आज भी वो आती है तो भले ही थोडी देर पैर में उस पैर ट्रिप जरूर लगता हु उसको मेने १ महीने में बच्ची से जवान कर दिया